Tag: Parliament

Total 2 Posts

एक देश: एक चुनाव – व्यावहारिक दिक्कतें और सैद्धान्तिक सवाल

भारत के सशक्त, जीवन्तमान और फलते-फूलते लोकतंत्र के जीवन में वह समय आ गया है जबकि उसकी कुछ कार्य प्रणालियों की समीक्षा हो। सहमति बनाकर उनमें बदलाव हो। इनमें से

लिबरलों को गो-हत्यारों से इतना प्रेम क्यों है?

स्वतंत्र भारत में ऐसी अनेक घटनाएं हुई हैं जिसे देश को नही बताया गया. इन्हे सरकारों द्वारा छुपाया गया, घटना को पूर्णतः दफन कर दिया गया, विशेषकर यदि वह हिन्दूओं