Category: Tukbandi

Total 11 Posts

हम तs सुतिया भोटर बानी..

लोकतंत के काहे कोसीं नेताजी के काहे खोबसीं सिस्टम के हम काहे भकोंसी जब हमहीं बनडमरु बानी हम तs सुतिया भोटर बानी ई हमके पकठाइल कहलन अउर ऊ मेहराइल कहलन

अजब ग़ज़ब मतदान

अजब-ग़ज़ब मतदान तुम्हारी ऐसी-तैसी सभी इदारे मिले हुए है, जनरैल सारे खिले हुए हैं ख़ुशी दिखे इमरान तुम्हारी ऐसी-तैसी अजब-ग़ज़ब मतदान तुम्हारी ऐसी-तैसी मीडिया भांड के माफ़िक़ नाचें, जम्हूरियत के

सप्ताहांत की तुकबंदी १३-११-२०१६

पी एम वाइज़ डीमोनिटाइज ड़ू ऐक्सेप्ट इट गॉल ऐंड गाइज काला धन भारी मन थोड़ी पीड़ा ज़्यादा फन बात की धार बस धिक्कार लूट रही है ये सरकार पाँच सौ

सप्ताहांत की तुकबंदी ०६-११-२०१६

मतलब सिद्ध उड़ते गिद्ध भांग घुली है तर्क निषिद्ध झूठ का नाच सच पर आँच जनपथ बाबा फिर से लॉंच ट्रोलम ट्रोल वही बवाल फ़ासीवाद बिकट अवसाद प्रेस्यागण करते आबाद

सप्ताहांत की तुकबंदी – 30-10-2016

वाह दीवाली क्रैकर वाली खीर मिठाई लेकर आई बर्फ़ीखोरी भूल कैलोरी सजी रंगोली हँसी ठिठोली खील बताशा सुख की आशा धन की आस खेलाए ताश तीन ठो पत्ती गुल है

सप्ताहांत की तुकबंदी – २२-१०-२०१६

फ़ंडिंग बंद धंधा मंद पॉवर लॉस्ट वेरी फ़ास्ट बी सी सी आई जमी है काई न्यायालय है भारी भय है बैठा झाग दुखी अनुराग काँगरेस की उत प्रदेश की नेत्री