Category: BJP

Total 23 Posts

16 मई 2014 का वो दिन, जब बदल गयी भारतीय राजनीति की धुरी!

आज की तारीख है 16 मई 2019. मात्र 5 साल पहले इसी दिन देश ने एक बड़ा चुनाव किया था. 5 साल पहले इसी दिन से हमारे देश की राजनैतिक

लिबरल वर्ग के हीरो बनते यशवंत सिंहा!

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और अटल बिहारी वाजपेई के समय केंद्रीय मंत्री रहे यशवंत सिन्हा ने नरेंद्र मोदी के ऊपर एक और हमला किया है. इस बार इतिहास

अक्षय ने राहत कोष में दिए एक करोड़ रुपए दान, नागरिकता पर टाँग खीचने वाले अब चुप

कुछ ही दिनो पहले अक्षय कुमार ने ट्विटर पर एक नोट में यह बात साझा की कि उनका मन इस बात से दुखता है कि लोग बार बार उनकी नागरिकता

मोदी पर अंधाधुंध हमले करते राहुल गाँधी हुए जवाब से आहत!

राहुल गांधी इस समय बहुत गुस्से में है. जाहिर सी बात है कि राहुल गांधी के साथ पूरी पार्टी गुस्से में होगी. कांग्रेस पार्टी का एक गुस्सा इसलिए भी है

मुद्दों के अकाल के बीच में चुनाव प्रभावित करते बचकाने तर्क

देश के अंदर राजनीतिक मुद्दों को लेकर हमेशा से एक बड़ी बहस चलती आई है. लोगों का अलग मत होने के पश्चात भी हमारे देश में हमेशा से एक राजनैतिक

TMC को वोट ना डालने पर मुस्लिम महिला के मुँह में डाला गया ऐसिड

बंगाल में जो ”पोरीबोर्तन” आया है, वो भगवान करे किसी देश या राज्य में न आए. चुनावी हिंसा, कार्यर्ताओं को केवल इसलिए फांसी पर लटकाना क्यूंकि वो किसी अन्य पार्टी

यूँ नहीं बन गए मोदी हिंदू हृदय सम्राट

“श्वेता! मैं आशुतोष बोल रहा हूँ. मैं ये जानना चाहता हूं कि क्या ये आचार संहिता का उल्लंघन नहीं है? क्या इस समय धर्म के नाम का इस्तेमाल सही है.“

क्या कांग्रेस द्वारा करकरे का हिंदुओं के खिलाफ षडयंत्र रचने में हुआ इस्तेमाल

कल ट्विटर पर साध्वी प्रज्ञा के शहीद हेमंत करकरे के लिए लगाए गए इलज़ाम के बाद आलोचनाओं से भर गया.बीजेपी समर्थक भी इस बयान से खुश नहीं थे. पर एक

लोकतंत्र की जड़ों पर प्रहार है इंटेलेक्चुअल असहिष्णुता!

लोकतंत्र में विभिन्न मुद्दों पर चर्चाएं होती हैं. यहां दूसरे की बातों को उतनी ही ध्यान से सुना जाता है जितने ध्यान से अपनी बातों को रखा जाता है. विचारों

गोआ के बड़बोले पादरी के बयान पर मीडिया की चुप्पी शर्मनाक

बीजेपी पर हमेशा ही हर चुनाव के पहले ध्रुवीकरण का आरोप लगाया जाता है. भले ही हर सभा में विपक्षी पार्टियाँ खुलेआम मुस्लिम और ईसाइयों को भड़काऐं कि अगर आप