Jaya Ranjan

Jaya Ranjan

6 Posts Website
Loves Reading, Writing & Travelling

बदलते जमाने संग बदलती रीत

बदलते जमाने के साथ हमें भी बदलना चाहिए, यही समय की रीत है. कलि प्रथम चरण में ताबड़तोड़ ऐसे एसे बदलाव हुए कि लोग हैरान-परेशान सोचते रहे और आसपास द्रुत

नारी शक्ति को लोपक प्रणाम!

8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पूरे विश्व में धूम-धाम से मनाया जाता है. नारी के उत्कृष्ट कार्यों की सराहना हेतु अनेकानेक कार्यक्रम आयोजित होते हैं, जहाँ उनकी उपलब्धियों से

कुंभ मेला..दूर हुईं भ्रांतियाँ

बचपन से ही मन में यह भ्रांति बन गयी थी कि कुंभ बस कहने को हिन्दुओं के लिये बेहद पुण्य स्नान है, पर यह तमाम तरह की बदइंतज़ामी और अराजकता

वज्रपात

राधिका की तेज़ कर्कश आवाज़ से सब सहम गये. बड़ी उद्दंडता से एक लोहे के ट्रंक में चार जोड़ी धोतियाँ भरकर वह सामने पटक गई. पाँव पटकती हुई बोली कि