Ankita Singh

Ankita Singh

4 Posts Website
Storyteller - @MissSingh16

दर्पण

शरद; “हां तो प्रेम, तुम्हारी शादी का क्या हुआ ?” प्रेम; “यार, फिक्स हो गयी. इसी अप्रैल में है.” शरद; “अर्रे, तुम फ़ोन पर तो कह रहे थे कि घरवालों ने जाने कहाँ फसा

वुमनिया की दुनिया:कॉरपोरेट

ऑफिस के वाशरूम में शीशे के सामने खड़ी प्राउड वाली मुस्कुराहट के साथ झुर्रियों वाले गाल ब्लश से चमकाती हुई सीईओ हो या कॉम्पलेक्स प्रोजेक्ट की तरह बालों की उलझन