भीड़तंत्र से डरते पत्रकारों के सवाल!

एक लोकतांत्रिक व्यवस्था का मजाक कैसे बनता है. इसका जरा आप एक उदाहरण देखिए. प्रियंका गांधी अपने भाई और कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के संसदीय क्षेत्र अमेठी में खड़ी हैं. वहां अपने आप को उन्हें साबित नहीं करना है, वह उनका परिवार पहले ही कर चुका है. उनके लिए एक अजीब स्थिति बनती है. इंडिया टुडे के एडिटर इन चीफ राजदीप सरदेसाई वहां खड़े हैं. वह प्रियंका गांधी से सवाल पूछते हैं कि आपके पिताजी आपकी माताजी और आपके भाई, तीनों ही अमेठी से सांसद रहे हैं, लेकिन आज तक अमेठी का विकास क्यों नहीं हुआ?

प्रियंका गांधी इसका जवाब देने के लिए अपना मुंह खोलती है और कहती हैं कि क्या आपने अमेठी को अच्छी तरीके से देखा है. आप पिछली बार यहां कब आए थे. प्रियंका गांधी से यही गलती हो गई. राजदीप सरदेसाई ने बताया कि वह किन किन चुनावों में अमेठी का दौरा कर चुके हैं. प्रियंका गांधी समझ गई कि उनसे गलती हुई है. अब जवाब देने को तो कुछ पास में था नहीं और विकास के नाम पर प्रत्यक्ष को प्रमाण की आवश्यकता नहीं पड़ती. तब प्रियंका गांधी को सिर्फ एक ही रास्ता दिखाई दिया और वह थे उनके कार्यकर्ता. फिर वही हुआ जो आम राजनीति में होता आया है. भीड़तंत्र प्रभावी हुआ और पूछा गया सवाल अप्रासंगिक हो गया.

अपनी तथाकथित क्रांतिकारी नेता को असहज होता हुआ देख कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने शोर मचाना शुरू कर दिया. शोर इतना बढ़ा कि राजदीप सरदेसाई के चेहरे पर डर साफ नजर आने लगा. वैसे भी भीड़ को बेकाबू होते देर नहीं लगती और जब इलाका सामने वाले का हो तो चुप रहने में ही भलाई है. देश में पत्रकारों की एक टोली ऐसी भी है जो कहती है कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कड़वे सवाल नहीं पूछे जाते हैं. उसको यह वीडियो जरूर देखना चाहिए. उन्हें समझ में आ जाएगा कि उनकी बंदूक की नली गलत दिशा में है.

वैसे उनकी हिम्मत भी नहीं होगी कि वह अपना निशाना कहीं दूसरी जगह लगाए. यदि वह ऐसा करते हैं तो इतिहास गवाह है कि उन पत्रकारों के साथ क्या हुआ है. मजे की बात तो यह है कि तब असहिष्णुता का कोई राग अलापा ही नहीं गया. यहां तक कि जब देश में इमरजेंसी चल रही थी तभी असहिष्णुता वाला शब्द बाहर नहीं आया था. जबकि असल सच्चाई थी कि तत्कालीन केंद्र सरकार अपने विपक्ष के प्रति असहिष्णु थी. आज बुद्धिजीवियों और कुछ पत्रकारों द्वारा यह शब्द उछाला जा रहा है.

कार्यकर्ता आम तौर पर वही कहता है जो उसका नेता कहता है. प्रियंका गांधी का इशारा स्पष्ट वीडियो में दिखाई दे रहा था. इससे दो ही निष्कर्ष निकलते हैं. पहला, प्रियंका गांधी वह नहीं है जो उनको प्रचारित किया जा रहा है. दूसरा, सिर्फ प्रधानमंत्री ही कड़वे सवालों के हकदार नहीं है. देश का विपक्ष भी है. और जब उससे कड़वे सवाल पूछे जाते हैं तो ऐसे ही दृश्य सामने आते हैं.

इसको आप राजनैतिक अहंकार भी कह सकते हैं. पीढ़ी दर पीढ़ी जिन्होंने देश पर राज किया हो उनके वंशजों को राजनीतिक अहंकार अवश्य हो जाता है. उन्हें सवाल का जवाब देना अच्छा नहीं लगता. हम यहां प्रियंका गांधी पर कोई व्यक्तिगत आक्षेप नहीं लगा रहे, लेकिन भारतीय राजनीति का वह दृश्य दिखाने का प्रयास कर रहे हैं जहां सवालों को भी अपने सांचे में डालकर पूछा जाता है. ऐसे दृश्य ही बताते हैं कि आज की राजनीति में इकोसिस्टम कितना महत्वपूर्ण रोल अदा करता है. कांग्रेस का इकोसिस्टम इस समय इतना मजबूत दिखाई नहीं दे रहा लेकिन आज भी कांग्रेस के लोग देश की व्यवस्था की जड़ों में घुसे हुए हैं. यही कांग्रेस की असली ताकत है. जिस दिन उसकी नीव हिली ऐसे दृश्य और भी सामने आएंगे. प्रियंका गांधी को यह समझना चाहिए कि सवाल सिर्फ पूछे ही नहीं जाते सवालों का जवाब भी दिया जाता है.

2 Comments

  1. Avatar
    May 2, 2019 - 12:27 pm

    Are you keen on exploring the latest Marketing techniques to grow your business?
    Is your Business undergoing a period of stagnation?
    Looking for an untapped market for your Products and services?
    At HMBC we intend on making the function of Marketing simpler and cost-effective for all organizations. With an innovative approach to Modern media and expertise in Online Marketing, Public Relations and Creative Designing, we can strategize and implement World Class solutions to help achieve your business goals both nationally and globally.
    For a LIMITED period we are offering FREE Marketing Consultancy to all Business houses. Simply log on to our secure website https://www.hmbc.co.in and fill in the online Enquiry Form to book your FREE and DISCRETE telephonic consultation.

    I look forward to hearing from you.

    ~Jai Hind ~

    Reply
  2. Avatar
    October 6, 2019 - 4:36 am

    Generic Viagra Online Paypal п»їcialis Costco Pharmacy Prices Levitra 52 Want To Buy Direct Stendra Erectile Dysfunction Tablet

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *