अक्षय ने राहत कोष में दिए एक करोड़ रुपए दान, नागरिकता पर टाँग खीचने वाले अब चुप

कुछ ही दिनो पहले अक्षय कुमार ने ट्विटर पर एक नोट में यह बात साझा की कि उनका मन इस बात से दुखता है कि लोग बार बार उनकी नागरिकता पर सवाल उठाते हैं. उन्होंने यह बात कभी नहीं छुपाई कि उनके पास कैनेडा की नागरिकता है. यह पहली बार नहीं है जब विपक्षी और उसके समर्थकों ने अक्षय कुमार की नागरिकता को लेकर सवाल उठाए .

विपक्ष के लोगों ने तो यहाँ तक कह दिया कि अक्षय के पास दोहरी नागरिकता है तो राहुल गांधी की दोहरी नागरिकता से क्या दिक्कत है. शायद वो ये भूल चुके हैं कि अक्षय कुमार चुनाव नहीं लड़ रहे हैं. अक्षय कुमार की देशभक्ति पर सवाल उठाने वाले शायद आज की इस ख़बर को जानकर चुप रहेंगे कि साइकलोन फ़नी से ओडिशा में विपदा ग्रस्त लोगों के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में एक करोड़ रुपए जमा किए हैं.

इसके पहले केरल में आई बाढ़ और चेन्नई में आई बाढ़ के बाद भी अक्षय कुमार ने मदद का हाथ बढ़ाया था. अक्षय कुमार की देश के सैनिकों के प्रति कितनी सहानुभूति है, ये बात जगजाहिर है. 2017 में उनके सुझाव के बाद गृह मंत्रालय ने ‘भारत के वीर’ नाम की वेबसाइट लॉन्च की थी. इसके तहत लोगों को शहीद सैनिकों के परिवारवालों के बैंक अकाउंट में सीधे पैसा ट्रांसफर करने की सुविधा दी गई .

सवाल नागरिकता का नहीं है, सवाल देशभक्ति या देश के प्रति वफ़ादारी की बात है. देश के बाहर रहने वाले कई नागरिक हैं जो देश की मिट्टी से उतना ही प्यार करते होंगे जितना कि मैं और आप. हाँ अगर आप देश में चुनाव लड़ना चाहते हैं या वोट डालने के इच्छुक हैं तो यह ज़रूरी है कि आपके पास दोहरी नागरिकता ना हो. ख़ासकर अगर चुनाव लड़ना हो तो हलफ़नामे में झूठी जानकारी देना देश के साथ धोका है. फिर भी लोग अक्षय कुमार की तुलना राहुल गांधी से करने में लगे हैं.

किसी ने तो यह तक कहा कि फिर बंगाल में बांग्लादेशी कलाकारों से क्या दिक्कत थी. अक्षय कुमार और बांग्लादेशी कलाकार की तुलना इस मामले में भी नहीं हो सकती है क्यूँकि अक्षय कुमार भारतीय हैं भले ही उनके पास दोहरी नागरिकता हो पर बांग्देलाशी कलाकार भारतीय नहीं हैं.

कलाकार हमारे देश में ऐसे हैं जो खाते देश की हैं पर गाते पाकिस्तान की. ऐसे भी कलाकार हैं जो हैं तो पाकिस्तानी हैं पर भारत देश में रहकर जीवन यापन करते हैं पर वक़्त आने पर अपने देश से ग़द्दारी नहीं करते. ऐसे अक्षय की देशभक्ति पे सवाल उठाने केवल राजनीतिक तीरंदाज़ी है. उनपे केवल इसलिए निशाना साधा जा रहा है क्योंकि वह लिबरल बॉलीवुड के विचारों से ज़्यादातर सहमत नज़र नहीं आते. प्रश्न यह भी उठता है कि अक्षय पहले कलाकार नहीं हैं जिनकी दोहरी नागरिकता है ना ही पहले कलाकार हैं जिन्होंने राजनीति में दिलचस्पी दिखाई हो फिर अचानक इन सब बातों पर सवाल उठना इस बात को दर्शाता है कि यह बीजेपी का विरोध ना करने का फ़लसफ़ा है.

Rashmi Singh
Writer by fluke, started with faking news continuing the journey with Lopak.

2 Comments

  1. Avatar
    September 26, 2019 - 11:26 pm

    Viagra Combien Ca Coute En Belgique Cephalexin Dosage For Sinus Infection Keflex 500 discount levitra canada Doxycycline Cod Accepted Website

    Reply
  2. Avatar
    October 4, 2019 - 11:15 pm

    Generic Cialis Los Vegas Amoxicillin Genital Tract Le Cialis Moin Chere viagra Purchase 5mg Cialis Tooth Abscess Antibiotics Amoxicillin Prescription For Propecia

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *