TMC को वोट ना डालने पर मुस्लिम महिला के मुँह में डाला गया ऐसिड

बंगाल में जो ”पोरीबोर्तन” आया है, वो भगवान करे किसी देश या राज्य में न आए. चुनावी हिंसा, कार्यर्ताओं को केवल इसलिए फांसी पर लटकाना क्यूंकि वो किसी अन्य पार्टी के हैं. विरोधी पार्टी के कार्यकर्ताओं के घर में घुस कर मार पीट करना, कार्यकर्ताओं के घरवालों को परेशान करना, इत्यदि इत्यादि.

इतने वर्षों तक मीडिया इस हिंसा को दबाता रहा है. पर सोशल मीडिया के कारण ही अब वह यह सब ख़बरें रिपोर्ट करने पर मजबूर हो रहा है.

कोलकाता के मुर्शीदबाद में एक महिला को केवल इसलिए पीटा गया और उसपर एसिड फेंका गया क्यूंकि उसने TMC को वोट नहीं दिया. पति और ससुराल वालों ने मिलकर उसे पीटा और उसके मुंह में एसिड दाल दिया। ४० वर्षीय अंसुरा बीबी जब वोट डालकर घर वापस लौटी तब उसके साथ यह दुर्घटना हुई.

पुलिस में शिकायत दर्ज कराते हुए अंसुरा बीबी के बेटे ने बताया कि पहले उसी माँ को घसीट घसीट कर मारा गया, उसके बाद उसके मुंह में एसिड डाल दिया. अंसुरा बीबी को एक स्थानीय स्वास्थ्य सेवा इकाई में ले जाया गया जहाँ से उसे मुर्शिदाबाद मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया.

ज़रा सोचिये मोदी को हिटलर कहने वाली ममता बनर्जी के राज में आए दिन बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या, मार पीट हिंसा होती ही रहती है. बीजेपी को न रैली करने दी जाती है न ही प्रचार पर मीडिया वाले न तो कभी इस पर सवाल उठाते न कोई जवाब मांगते हैं.

बंगाल में आया यह हिंसक परिबोर्तन ममता बैनर्जी की बेबसी दर्शाता है कि वो किस कदर डरी हुई हैं. अपने खिलाफ उठती किसी भी आवाज़ को दबाना शायद यही ममता दीदी का परिबोर्तन है, और इसमें उनके कार्यकर्त्ता भी इतने मशगूल हैं कि विरोधी तो विरोधी, अपने ही परिवार वालो की जान लेने पर उतारू हैं.

Rashmi Singh
Writer by fluke, started with faking news continuing the journey with Lopak.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *