अभिव्यक्ति की आज़ादी और इस्लामिक आज़ादी का संघर्ष

देश में 2014 के बाद से ही ऐसा माहौल बताया जा रहा है, जहां लोगों को आज़ादी नहीं दी जा रही. किसी को अभिव्यक्ति की आज़ादी चाहिए, किसी को भारत तेरे टुकड़े होंगे बोलने की आज़ादी चाहिए. सोशल मीडिया अकाउंट से बीजेपी और नरेंद्र मोदी की आलोचनाओं की बौछार करने वालों को भी शिकायत है कि उन्हें आज़ादी नहीं है.

जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी में एक फैशन शो होना था पर कुछ छात्रों के प्रदर्शन के चलते यह शो नहीं हो पाया. तकरीबन 12 छात्रों के समूह ने इस फैशन शो का विरोध इसलिए क्योंकि ये गैर इस्लामी था.

इस फैशन शो का आयोजन 30 मार्च को ‘तर्ज-ए-लिबास’ एक्सटेसी फेस्टिवल के तहत होना था. इसके शुरू होने से पहले 12 लोगों ने प्लेकार्ड दिखाकर इसका विरोध किया जिसमें लिखा था कि फैशन शो जामिया के मूल विचार के खिलाफ है.

स्टूडेंट्स ऑफ जामिया के सदस्य अरशद वारसी के मुताबिक, उन्होंने शुरुआत में आयोजनकर्ताओं को कहा कि यह कार्यक्रम ‘इस्लामिक आचार’ के खिलाफ है. आयोजनकर्ताओं ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी. इसके बाद वे वेन्यू पर सुबह 10 बजे पहुंच गए.

यह पहली बार नहीं है जब किसी चीज़ का विरोध गैर इस्लामी बताकर किया जा रहा है. पिछले वर्ष प्रिया प्रकाश वारियर के एक मशहूर गाने में आंख मारने वाले सीन के ख‍िलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई थी. इसमें कहा गया था कि फिल्म ‘उरु अदार लव’ के एक सीन में दिखाया गया प्रिया का विंक इस्लाम में हराम है. गाने के ख‍िलाफ हैदराबाद की दो पार्ट‍ियों ने मामला दर्ज कराया था.

कुछ ही दिन पहले महिला पत्रकार आरफ़ा ख़ानम शेरवानी ने देशवासियों को होली की बधाई दी लेकिन कुछ लोगों को ये अच्छा नहीं लगा और उन्हें ट्रोल कर भद्दे ट्वीट्स किये गए. आरफ़ा ख़ानम ने गुरुवार को अपनी एक दोस्त के साथ तस्वीर शेयर करते हुए ट्वीट कर लिखा; “होली खेलूंगी कहके बिस्मिल्ला, होली मुबारक दोस्तों.”

इसके बाद वीमेंस कॉलेज स्टूडेंट यूनियन द्वारा आयोजित वीमेंस लीडरशिप सम्मिट में अरफा खानम शेरवानी का मंगलवार को शामिल होना भी रद्द कर दिया गया. छात्र संघ उपाध्यक्ष हमजा सुफयान सहित कई नेता आरफा के ट्वीट का विरोध कर रहे थे.

सोचने की बात यह है कि ऐसा कुछ किसी हिन्दू संगठन के कारण हुआ होता तो मीडिया चैनल इस पर काफी बवाल करते. अजीब बात यह है कि धर्म निरपेक्षता की बात करने वाले इन्हीं यूनिवर्सिटी और कॉलेजों की जब खुद इसका प्रदर्शन करने की बार आती है,तब वो पीछे हट जाते हैं.

Rashmi Singh
Writer by fluke, started with faking news continuing the journey with Lopak.

9 Comments

  1. Avatar
    May 8, 2019 - 6:50 pm

    Hi, I do believe this is an excellent website. I stumbledupon it 😉 I will revisit
    once again since I book marked it. Money and freedom is the best way to change, may
    you be rich and continue to help other people.

    Reply
  2. Avatar
    May 12, 2019 - 6:35 am

    Tremendous issues here. I am very glad to peer your post.
    Thank you a lot and I am having a look forward to contact you.
    Will you kindly drop me a mail?

    Reply
  3. Avatar
    May 13, 2019 - 10:14 pm

    Hi there, i read your blog occasionally and i own a similar one and i
    was just wondering if you get a lot of spam responses?
    If so how do you protect against it, any plugin or anything you can advise?

    I get so much lately it’s driving me crazy so any help is very
    much appreciated.

    Reply
  4. Avatar
    May 31, 2019 - 4:47 pm

    Greate post. Keep writing such kind of info on your blog.
    Im really impressed by your blog.
    Hey there, You’ve performed a great job. I will definitely digg
    it and individually suggest to my friends. I’m sure they will
    be benefited from this web site.

    Reply
  5. Avatar
    June 1, 2019 - 4:24 pm

    I needed to thank you for this great read!! I absolutely enjoyed every bit of it.
    I’ve got you bookmarked to check out new things you post…

    Reply
  6. Avatar
    June 4, 2019 - 2:59 pm

    Spot on with this write-up, I seriously believe this amazing site needs far more attention. I’ll probably be returning
    to read more, thanks for the information!

    Reply
  7. Avatar
    June 7, 2019 - 8:49 am

    Excellent post! We are linking to this great post on our
    site. Keep up the great writing.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *