भगवान श्रीराम, केवट और मिनमम इंकम गारंटी स्कीम

श्रीराम, माता सीता और लक्ष्मण जी निषादराज से विदा ली. चलते-चलते वे गंगा किनारे पहुँचे. आस-पास देखा तो एक मैदान में बच्चे क्रिकेट खेल रहे थे. दूर रेत में ढेर सारा तरबूज़ रखा हुआ था. परंतु घाट पर केवट जी उपस्थित नहीं थे.

लक्ष्मण जी ने चारों ओर देखा और डीप एक्स्ट्रा कवर पर फ़ील्डिंग कर रहे एक बच्चे को आवाज़ लगाई. पहली बार में बच्चे ने ध्यान नहीं दिया. लगभग चौथी बार पुकारने पर बच्चा चलकर लक्ष्मण जी के पास आया.

उसे देखकर श्रीराम बोले; “वत्स, यहाँ केवट जी की नाव तो है परंतु वे दिखाई नहीं दे रहे? क्या दोपहर के भोजन के पश्चात घर से नहीं आए?”

बच्चा बोला; “नहीं आते अब”

श्रीराम ने पूछा; “नहीं आते से क्या तात्पर्य वत्स? अभी कहाँ हैं वे?”

बच्चा बोला; “तीन दिन से तो आए नहीं. अभी ताश खेल रहे होंगे बगैचा में”

श्रीराम बोले; “वत्स, जाओ और उनसे कहो कि अयोध्या से राम, सीता और लक्ष्मण आए हैं और उन्हें आज ही गंगा पार जाना है”

बच्चा गया और थोड़ी देर बाद केवट जी पधारे. उन्होंने श्रीराम, माता सीता और लक्ष्मण जी को प्रणाम किया.

श्रीराम ने उनसे कहा; “आपसे सविनय निवेदन है कि संध्या होने से पूर्व हमें उस पार शिवकुटी उतार दें जिससे हम सूर्य डूबने से पूर्व वहाँ पूजा अर्चना करके आगे बढ़ पाएँ”

केवट जी हाथ जोड़कर बोले; “हे प्रभु, आपे कदाचित हमारी नाव पर लगा FOR SALE का बोर्ड नहीं देखा. अब हम केवटगण नाव खेने का काम नहीं करते”

श्रीराम ने आश्चर्यचकित होते हुए कहा; “नाव खेने का काम नहीं करते? तब आप सब का जीवनयापन कैसे होता है?”

केवट जी बोले; “प्रभु ने कदाचित मिनिमम इंकम स्कीम के बारे में नहीं सुना. हे प्रभु, यदि बिना मेहनत किए हमें पैसे मिलें तो हम उतने नादान तो नहीं कि जीवनयापन के लिए मेहनत करेंगे. हम नादान नहीं हैं इसलिए अब हम केवट नाव नहीं खेते. हम सब अब प्रतीक्षा करते हैं और प्रतीक्षा के क्षण ताश खेलकर काटते हैं.”

श्रीराम के माथे पर चिंता के बल पड़ गए. वे बोले; “प्रतीक्षा करते हैं? किसकी प्रतीक्षा करते हैं आपसब?”

केवट जी बोले; “राहुल गांधी के प्रधानमंत्री बनने की प्रतीक्षा”

आकाश मार्ग से देबर्षि नारद चले जा रहे थे. केवट-श्रीराम संवाद सुनकर बोले; “नारायण नारायण. प्रभु की महिमा अपरंपार है”

श्रीराम ने उनकी बात सुनी और मंद-मंद मुस्कुरा उठे.

मन ही मन बोले; “शठ चाहता है कि सम्पूर्ण संसार शठ हो जाए और दुनियाँ महाशठबंधन में बंध जाए”

श्रीराम ने लक्ष्मण से कहा; “चलो अनुज, हम कर्ज़न पुल से गंगा पार करते हैं”




दावा त्याग – लेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. आप उनको फेसबुक अथवा ट्विटर पर सम्पर्क कर सकते हैं

Shiv Kumar Mishra
Senior Reporter Lopak.in @shivkmishr

12 Comments

  1. Avatar
    May 4, 2019 - 11:44 pm

    Hello it’s me, I am also visiting this website regularly, this web page is genuinely nice and
    the viewers are actually sharing good thoughts.

    Reply
  2. Avatar
    May 13, 2019 - 11:47 am

    Hi i am kavin, its my first time to commenting anyplace, when i read this piece of
    writing i thought i could also create comment due to this brilliant
    piece of writing.

    Reply
  3. Avatar
    May 30, 2019 - 9:45 pm

    Aw, this was a very nice post. Finding the time and actual effort
    to produce a top notch article… but what can I say… I procrastinate a whole lot and never manage to
    get anything done.

    Reply
  4. Avatar
    June 1, 2019 - 2:44 am

    Very nice post. I just stumbled upon your weblog and wished to say that I’ve really enjoyed surfing around your blog
    posts. After all I’ll be subscribing to your rss
    feed and I hope you write again soon!

    Reply
  5. Avatar
    June 2, 2019 - 11:58 pm

    I’d like to find out more? I’d love to find out some additional information.

    Reply
  6. Avatar
    June 5, 2019 - 8:10 am

    Attractive section of content. I just stumbled upon your blog and
    in accession capital to assert that I acquire in fact enjoyed account your blog posts.

    Anyway I will be subscribing to your augment and even I achievement you access consistently fast.

    Reply
  7. Avatar
    June 6, 2019 - 7:54 pm

    Thanks for sharing your info. I truly appreciate your
    efforts and I am waiting for your next write ups thank you once again.

    Reply
  8. Avatar
    September 2, 2019 - 10:32 am

    Thanks for ones marvelous posting! I seriously enjoyed reading it, you’re a great
    author. I will make certain to bookmark your blog and
    will eventually come back in the future. I want to encourage you continue your great writing,
    have a nice evening!.

    Reply
  9. Avatar
    September 2, 2019 - 10:42 am

    If some one wishes to be updated with most up-to-date technologies therefore
    he must be visit this web site and be up to date
    everyday.

    Reply
  10. Avatar
    November 21, 2019 - 7:49 am

    I always spent my half an hour to read this blog’s posts everyday
    along with a mug of coffee.

    Reply
  11. Avatar
    November 21, 2019 - 9:49 am

    It’s in fact very complicated in this full of activity life to listen news
    on TV, so I just use world wide web for that reason, and obtain the most
    recent news.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *